Mukhyamantri Rajshri Yojana 2023: मिलेंगे ₹50000, एप्लीकेशन फॉर्म व दिशा निर्देश

Join Whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

Mukhyamantri Rajshri Yojana: सरकार द्वारा बेटियों के सामाजिक उत्थान के लिए सतत प्रयास किया जाता है, और इसके लिए विभिन्न प्रकार की योजनाएँ चलाई जाती हैं। हाल ही में, राजस्थान सरकार ने मुख्यमंत्री राजश्री योजना की शुरुआत की है। इस योजना के शुरू हो जाने से हमारे समाज में व्याप्त बेटियों के प्रति जो नकारात्मक सोच है उसे बदलने की कोशिश की गयी है और एक नई सकारात्मक सोच को विकसित करने का प्रयास है।

इस लेख के माध्यम से आपको मुख्यमंत्री राजश्री योजना के सम्पूर्ण विवरण प्राप्त होगा। आप इस लेख को पढ़कर राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लाभ, उद्देश्य, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, विशेष विशेषताएँ, और आवेदन प्रक्रिया से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। इसलिए, यदि आप Mukhyamantri Rajshri Yojana 2023 का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, तो कृपया हमारे इस लेख को पूरा पढ़ें।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना 2023 (Mukhyamantri Rajshri Yojana)

Table of Contents

2016-17 में राजस्थान सरकार ने मुख्यमंत्री राजश्री योजना की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण को विकसित करने का प्रयास किया जा रहा है, और साथ ही बालिकाओं के स्वास्थ्य और शिक्षा स्तर में सुधार करने का लक्ष्य भी है। मुख्यमंत्री राजश्री योजना का लाभ 1 जून 2016 के बाद पैदा हुई बालिकाओं को प्रदान किया जाता है, और उन्हें ₹ 50,000 की आर्थिक सहायता दी जाती है।

Mukhyamantri Rajshri Yojana

यह आर्थिक सहायता 6 किस्तों में बाँटी जाती है और मुख्यमंत्री राजश्री योजना के माध्यम से बालिकाओं के समग्र विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इसके अलावा, इस योजना के तहत बालिकाओं को विभिन्न कक्षाओं में प्रवेश करने पर भी आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है, जिससे प्रदेश के नागरिकों को बालिकाओं की शिक्षा को प्रोत्साहित करने का मौका मिलता है, और समाज में एक समानता का अधिकार भी विकसित किया जाता है।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री राजश्री योजना का मुख्य उद्देश्य समाज में बालिकाओं के प्रति सकारात्मक सोच को विकसित करना है, ताकि बालिकाओं का समग्र विकास सुनिश्चित किया जा सके। इसके साथ ही, इस योजना के माध्यम से बालिकाओं के लालन-पालन, शिक्षा, और स्वास्थ्य के क्षेत्र में होने वाले लिंक भेद को रोकने और उन्हें बेहतर शिक्षा और स्वास्थ्य सुनिश्चित करने का उद्देश्य
है। इस योजना से संस्थागत प्रवास को बढ़ावा देने के साथ ही मातृ मृत्यु दर में भी कमी आने की उम्मीद है।

इसके अलावा, इस योजना के माध्यम से बालिका शिशु मृत्यु दर में कमी आने और लिंगानुपात में सुधार आने की दिशा में भी कदम बढ़ाया जाएगा। मुख्यमंत्री राजश्री योजना बालिकाओं के विद्यालयों में नामांकन और ठहराव को भी सुनिश्चित करेगी और उन्हें समाज में समानता का अधिकार प्रदान करेगी।

Mukhyamantri Rajshri Yojana Details in Key Highlights

योजनामुख्यमंत्री राजश्री योजना
राज्यराजस्थान
आरंभ कीराजस्थान सरकार ने
उद्देश्यबालिकाओं के प्रति सकारात्मक सोच विकसित करना
लाभार्थीराजस्थान के नागरिक
आवेदन का प्रकारऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttps://wcd.rajasthan.gov.in/content/wcd-cms/hi/wcd-home-page.html

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता

  • संस्थागत प्रसव के लिए अधिकृत निजी चिकित्सा संस्थानों में प्रसव से जन्म लेने वाली बालिका के माता-पिता को ₹2500 की राशि राज्य के राजकीय चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रदान की जाएगी। यह राशि जननी सुरक्षा योजना के तहत प्रदान की जाएगी।
  • बालिका की आयु 1 वर्ष की पूर्ण होने के पश्चात उसके नाम पर ₹2500 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • एक परिवार की बेटी को राज्य के किसी राजकीय विद्यालय की पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर उस बालिका के परिवार को को ₹4000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • वहीँ अगर कोई बेटी किसी भी राजकीय विद्यालय में 6ठी कक्षा में प्रवेश लेती है तो बालिका को ₹5000 की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।
  • इसके अलावा, बालिका के किसी भी राजकीय विद्यालय में कक्षा 10 में प्रवेश लेने पर उसके नाम पर ₹11000 की राशि प्रदान की जाएगी।
  • यदि बालिका 12वीं कक्षा उत्तीर्ण कर लेती है, तो उस स्थिति में बालिका को ₹25000 की राशि प्रदान की जाएगी।

राजस्थान दिव्यांग स्कूटी योजना के तहत सरकार राज्य के लगभग 5000 दिव्यांगजनों को फ्री में दे रही है स्कूटी

Mukhyamantri Rajshri Yojana के दिए जाने वाले लाभ

लाभ प्रदान करने का समयलाभ की राशि
जन्म के समय₹2500
1 वर्ष के टीकाकरण पर₹2500
पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर₹4000
छठी कक्षा में प्रवेश लेने पर₹5000
10वीं कक्षा में प्रवेश लेने पर₹11000
12वीं कक्षा में प्रवेश लेने पर₹25000

राज हेल्थ पोर्टल में रजिस्ट्रेशन करके राजस्थान के निवासियों को मिलेगा ₹25 लाख तक का स्वास्थ्य बीमा – करें अप्लाई यहां से

Mukhyamantri Rajshri Yojana के लाभ तथा विशेषताएं

  • मुख्यमंत्री राजश्री योजना की शुरुआत 2016-17 में राजस्थान सरकार ने की थी
  • इस योजना के माध्यम से समाज में बेटियों के प्रति सकारात्मक सोच को विकसित करने का प्रयास किया जाएगा।
  • इसके साथ ही, बेटियों के स्वास्थ्य और शैक्षिक स्तर में सुधार भी किया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ 1 जून 2016 या इसके बाद जन्मने वाली बेटियों को प्रदान किया जाएगा।
  • इन बेटियों को इस योजना के तहत ₹50,000 की आर्थिक सहायता दी जाएगी, जो 6 किस्तों में दी जाएगी।
  • यह योजना बेटियों के समग्र विकास में कारगर साबित होगी।
  • इसके अलावा, मुख्यमंत्री राजश्री योजना के माध्यम से बेटियों को विभिन्न कक्षाओं में प्रवेश के लिए भी आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इससे प्रदेश की नागरिक बेटियों के शिक्षित बनाने के लिए प्रोत्साहित होंगे, और यह योजना बेटियों को समाज में समानता का अधिकार भी प्रदान करेगी।

SSO ID कैसे बनाएं , SSO Login कैसे करें साड़ी जानकारी स्टेप बाई स्टेप आसान शब्दों में

मुख्यमंत्री राजश्री योजना से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण दिशा निर्देश

  • बालिका की आयु 1 वर्ष पूर्ण होने के बाद, टीकाकरण की सुनिश्चित ऑनलाइन करने के बाद, चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग द्वारा लाभ की राशि माता-पिता या अभिभावक के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।
  • इसके लिए बालिका की जन्म के समय ही एक यूनिक आईडी नंबर प्रदान किया जाएगा।
  • पहली और दूसरी किस्त प्राप्त करने के लिए आवेदन करने की आवश्यकता नहीं होगी।
  • टीकाकरण के प्रमाण के रूप में चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मातृ शिशु स्वास्थ्य कार्य या ममता कार्ड अपलोड करने के बाद, द्वितीय किस्त प्रदान की जाएगी।
  • पहली और दूसरी किस्त का लाभ वर्तमान में संचालित शुभ लक्ष्मी योजना के तहत चिकित्सा, स्वास्थ्य, और परिवार कल्याण विभाग द्वारा प्रदान किया जाएगा।
  • बालिका के प्रथम कक्षा में प्रवेश के बाद, तीसरी किस्त की राशि प्रदान की जाएगी। तीसरी किस्त प्राप्त करने के लिए, निर्धारित प्रारूप के मुताबिक ऑनलाइन आवेदन ई-मित्र, अटल सेवा केंद्र, या अन्य उपलब्ध विकल्पों के माध्यम से किया जाएगा।
  • आवेदन के साथ मातृ शिशु सुरक्षा कार्ड की प्रति, विद्यालय में प्रवेश का प्रमाण पत्र, दो संतानों संबंधित सब घोषणा की प्रति भी अपलोड करना अनिवार्य है।
  • सभी ऑनलाइन आवेदनों की स्वीकृति कार्यक्रम अधिकारी द्वारा की जाएगी।
  • लाभार्थी के खाते में भेजी जाने वाली धनराशि ऑनलाइन मोड से ट्रांसफर होगी।
  • इस योजना के अंतर्गत चौथी, पांचवी, छठी और सातवी किस्त प्राप्त करने के लिए निर्धारित प्रारूप में आवेदन करना होगा।
  • आवेदन के साथ विद्यालय में प्रवेश का प्रमाण पत्र की प्रति भी अपलोड करना अनिवार्य होगा।
  • इसके अलावा, 12वीं कक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद, अंतिम श्रेणी की प्रति भी आवेदन के साथ अपलोड करना अनिवार्य होगा।
  • मुख्यमंत्री राजश्री योजना का प्रशासनिक विभाग महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा किया जाएगा।
  • इस योजना की समीक्षा उस जिले में कार्यरत जिला कलेक्टर द्वारा हर महीने एक बार की जाएगी।
  • इस योजना के सफल संचालन हेतु, राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जरुरी दिशा निर्देश जारी करते रहे जाएंगे और कोई भी जरुरी संशोधन अगर होना है तो वो किआ जायेगा।

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना पात्रता

  • राज्य में जन्मी सभी बालिकाएं जिन्होंने “1 जून 2016 के बाद जन्म लिया है उन्हें इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • लाभार्थी के माता-पिता के पास आधार या भामाशाह कार्ड होना आवश्यक होगा। अगर प्रथम किस्त के समय उनके पास आधार या भामाशाह कार्ड नहीं होता है, तो प्रथम किस्त का लाभ संस्थागत प्रसव की आधार पर प्रदान किया जाएगा, लेकिन दूसरी किस्त के लिए आधार और भामाशाह कार्ड की प्रति उपलब्ध करवाना आवश्यक होगा।
  • इस योजना का लाभ केवल राजस्थान के निवासियों को ही मिलेगा। बाहर से जन्मी बच्चियों को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा, लेकिन उन्हें अपने जन्म का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा, जिससे उन्होंने जननी सुरक्षा योजना का लाभ प्राप्त किया हो। इस स्थिति में, योजना का लाभ मूल निवासी क्षेत्रीय चिकित्सा संस्थान से प्राप्त किया जाएगा।
  • प्रथम और द्वितीय किस्त का लाभ सभी संस्थागत प्रसव से पैदा हुई बच्चियों को प्रदान किया जाएगा।
  • तीसरी और उसके बाद की किस्तों का लाभ एक परिवार में अधिकतम दो जीवित संस्थानों तक ही होगा।
  • इसके अलावा, प्रथम दो किस्तों के अतिरिक्त अन्य किस्तों का लाभ केवल उन बच्चियों को मिलेगा जिनके परिवार में जीवित संस्थानों की संख्या 2 से अधिक नहीं होगी।
  • अगर माता-पिता की ऐसी बच्ची की मौके पर मौत हो जाती है, जिन्होंने पहले एक या दो किस्तों का लाभ प्राप्त किया हो, तो उनके पास जीवित संस्थानों की संख्या कम हो जाएगी, और अगर वे फिर से मातृ बनती हैं, तो वह इस योजना का लाभ प्राप्त करेगी।
  • प्रथम किस्त का लाभ पाने के लिए, संस्थागत प्रसव के लिए अधिकृत निजी चिकित्सा संस्थानों में जन्म होना आवश्यक होगा, जो राजकीय और चिकित्सा विभाग द्वारा मान्यता प्राप्त है।
  • दूसरी किस्त का लाभ मातृ शिशु स्वास्थ्य कार्ड या ममता कार्ड के आधार पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किया जाएगा, जिसमें सभी टीका लगवाने का आदान-प्रदान होता है।
  • सभी प्रथम किस्त के लाभार्थियों को आंगनवाड़ी केंद्र से जोड़ने का प्रयास किया जाएगा।
  • योजना की अगली किस्त तभी प्रदान की जाएगी जब लाभार्थी ने पहले किसी अन्य किस्त की राशि प्राप्त की हो।
  • इस योजना का लाभ केवल तभी प्रदान किया जाएगा जब बालिका राज्य सरकार द्वारा संचालित शिक्षण संस्थानों में प्रत्येक चरण में शिक्षित हो।”

मुख्यमंत्री राजश्री योजना महत्वपूर्ण दस्तावेज (Documents)

  • माता पिता का भामाशाह कार्ड
  • माता पिता का आधार कार्ड
  • बालिका का आधार कार्ड
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
  • मातृ शिशु स्वास्थ्य कार्ड
  • ममता कार्ड
  • विद्यालय में प्रवेश का प्रमाण पत्र
  • दो संतानों संबंधित स्व घोषणा पत्र
  • 12वीं कक्षा की अंक तालिका
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ आदि

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया (wcd@rajasthan.gov.in)

  • योजना का लाभ लेने हेतु पहले, आपको अपने नजदीकी ई-मित्र अथवा अटल सेवा केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट को विजिट करना होगा।
  • वहां आपको ई-मित्र या अटल सेवा केंद्र में आवेदन से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करनी होगी।
  • सेंटर के प्रबंधक द्वारा आपका आवेदन पत्र भरा जाएगा।
  • सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को भी सेंटर के प्रबंधक द्वारा अपलोड किया जाएगा।
  • आवेदन पत्र को सबमिट कर देने के बाद, एक रेफरेंस नंबर दिआ जाएगा आपको जिसे आपको संभल कर रखना है।
  • इस रेफरेंस नंबर के माध्यम से, आप अपने आवेदन की स्थिति को ट्रैक कर सकेंगे।
  • इस तरह, आप मुख्यमंत्री राजश्री योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

Mukhyamantri Rajshri Yojana से जुडी पात्रता की जानकारी लेने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको जन सूचना पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • वहां पर, होम पेज आपके सामने दिखाई देगा।
  • होम पेज पर, योजनाओं की जानकारी के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • फिर आपको उस विभाग में ‘वूमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट डिपार्टमेंट’ को चुन लेना होगा।
    अब, आपको ‘एलिजिबिलिटी स्कीम’ में ‘चीफ मिनिस्टर राजश्री योजना’ के विकल्प का चयन करना होगा।
  • इसके बाद, आपको पात्रता से संबंधित जानकारी आपकी स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

FAQ

मुख्यमंत्री राजश्री योजना में पात्रता की जानकारी कैसे लें ?

इसके लिए आपको जन सूचना पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर योजनाओं की जानकारी के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा। वहां आपको उस विभाग में ‘वूमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट डिपार्टमेंट’ को चुन लेना होगा। अब, आपको ‘एलिजिबिलिटी स्कीम’ में ‘चीफ मिनिस्टर राजश्री योजना’ के विकल्प का चयन करना होगा, और पात्रता की जानकारी प्रदर्शित हो जाएगी।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना में कितनी धनराशि मिलती है?

बेटियों के जन्‍म को प्रोत्‍साहित करने हेतु राजस्‍थान सरकार की ओर से ‘मुख्‍यमंत्री राजश्री योजना’ चलाई जा रही है। इस योजना में राजस्‍थान सरकार बेटियों को जन्‍म से लेकर 12वीं की पढ़ाई तक 50,000 रुपए की मदद देती है।

Leave a Comment