गोबर बेचो ₹2 प्रति किलो: गोबर खरीद योजना हिमाचल प्रदेश 2024 (Gobar Kharid Yojana Himachal Pradesh in Hindi)

Join Whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

गोबर खरीद योजना हिमाचल प्रदेश 2024, क्या है,कब शुरू होगी, गोबर की कीमत, लाभ, लाभार्थी, ऑनलाइन आवेदन,पात्रता, दस्तावेज, अधिकारिक वेबसाइट,हेल्पलाइन नंबर, ताज़ा खबर, स्टेटस (Gobar Kharid Yojana Himachal Pradesh in Hindi) (Cow Dung Selling, Price, Benefit, Beneficiary List, Online Apply, Eligibility, Documents, Official Website, Helpline Number, Latest News, Status)

योजनाएं सरकार लॉन्च करती हैं ताकि देश में रहने वाले विभिन्न वर्गों के व्यक्तियों का कल्याण हो सके। हर वर्ग के लिए अलग-अलग योजनाओं को शुरू किया जाता है क्योंकि हर वर्ग समान नहीं होता। इसी क्रम में हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जी ने एक नई योजना को लॉन्च करने की घोषणा की है जिसका नाम उन्होंने गोबर खरीद योजना रखा है। इस योजना से राज्य में पशुपालन बढ़ेगा और उन्हें करने वाले लोगों के आय में भी वृद्धि होगी। आज हम इस योजना के बारे में हम विस्तार से जानेंगे के कैसे आप इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

Gobar Kharid Yojana 2024

गोबर खरीद योजना हिमाचल प्रदेश 2024 (Gobar Kharid Yojana Himachal Pradesh)

योजना का नामगोबर खरीद योजना
राज्यहिमाचल प्रदेश
लॉन्च की जायेगीसाल 2024 में
उद्देश्यकिसानों की आय में वृद्धि और पशुपालन की ओर ध्यान आकर्षित करना
लांच करेंगेहिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू
गोबर की कीमत₹2 प्रति किलो गोबर की खरीद की जायेगी

गोबर खरीद योजना क्या है (Gobar Kharid Yojana Himachal Pradesh)

गोबर खरीद योजना को राज्य के विकास में एक भागीदार के रूप में बनाने की कोशिश है जिससे समाज का हर वर्ग लाभान्वित हो। सरकार ने गोबर खरीद योजना को शुरू करने का आश्वासन दिया था जिससे लोगों में पशुपालन के प्रति जागरूकता बढ़े और लोगों के आय में भी बढोतरी हो। क्योंकि इससे लोग जो पशुपालन करेंगे वह दूध बेचकर भी पैसे कमाएंगे और गोबर बेचकर भी। राज्य की सरकार ने पहले ही दूध को ₹6 प्रति लीटर ज्यादा खरीद कर लोगों की आय में वृद्धि करने का एक प्रयास किया है। गोबर खरीद योजना राज्य के लिए एक महत्वपूर्ण योजना साबित हो सकती है।

बेटी के जन्म पर, हिमाचल प्रदेश सरकार ₹10000 की छात्रवृत्ति बेटी है अनमोल योजना के तहत -करें आवेदन

गोबर खरीद योजना की राशि (Gobar Kharid Yojana Amount)

प्रदेश की सरकार द्वारा गोबर खरीद योजना लॉन्च करने हेतु सारे कार्यों एवं नियमों को पूरा कर लिया गया है और ऐसा कहा जा रहा है कि आने वाले नए साल यानी साल 2024 में इस योजना को जल्द शुरू कर दिया जाएगा। फिलहाल इसरो योजना के अंतर्गत किसी राशि को निर्धारित नहीं किया गया है लेकिन यह बताया गया है कि गोबर को ₹2 प्रति किलो में खरीदा जाएगा। इससे न केवल लोगों की आय में वृद्धि होगी बल्कि राज्य में पशुपालन भी बढ़ेगा।

गोबर खरीद योजना के उद्देश्य

गोबर खरीद योजना के उद्देश्य में कुछ निम्नलिखित उद्देश्य हैं जैसे –

  • हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जी द्वारा यह योजना शुरू की गई है।
  • गोबर खरीदी योजना से पशुपालकों की आय में वृद्धि होगी।
  • इस योजना के कारण लोग पशुपालन के लिए प्रेरित होंगे।
  • गोबर खरीद योजना से राज्य में आत्मनिर्भरता बढ़ेगी क्योंकि लोग पशुपालन करेंगे और उससे उनकी वित्तीय समस्या कम होगी।
  • शुरू में इस योजना के तहत सरकार एक ब्लॉक के 250 किसानों को पंजीकृत करेगी। उसके बाद सीमांत और प्रगतिशील किसानों को लाभान्वित करने के उद्देश्य से उन सबके क्लस्टर बनाए जाएंगे।

गोबर खरीद योजना की विशेषताएं और लाभ (Gobar Kharid Yojana Features)

  • गोबर खरीदी योजना के तहत राज्य में पशुपालन की क्रियाएँ बढ़ेगी।
  • गोबर खरीदी योजना के तहत राज्य के बेरोजगारों के लिए रोजगार का एक जरिया बनेगा।
  • गोबर का इस्तेमाल करके अब लोग पैसे कमा सकेंगे।
  • योजना के कारण अब राज्य के लोगों के घरों की स्थिति में सुधार होगी और आर्थिक स्थिति ठीक होगी।
  • पशुपालन जागरूकता जो समाप्ति के कगार पर है वह इस योजना के कारण फिर से लोगों में जागेगी ।
  • राज्य में बढ़ते दूध के दामों में भी कमी आएगी।
  • नए किसानों को भी इससे अत्यधिक लाभ होगा और वह उत्साह से खेती और पशुपालन दोनो कर सकेंगे।

गोबर खरीदी योजना में पात्रता

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक को हिमाचल प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • पशुपालन करने वाला कोई भी व्यक्ति चाहे वह किसान हो या पशुपालक इसका पात्र हो सकता है।

गोबर खरीद योजना के दस्तावेज

  • राशन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • वोटर आई डी
  • बैंक पासबुक
  • आवेदक की हाल में खींची गई फोटो

गोबर खरीद योजना आवेदन प्रक्रिया

  • योजना में लाभ लेने के लिए आवेदक को फार्म विभाग से लेने होंगे।
  • उसे फॉर्म में आपसे जो भी जानकारी मांगी गई है उसे ध्यान पूर्वक पढ़कर भर देंगे।
  • फॉर्म में मांगी गई जरूरी दस्तावेजों की कॉपी भी संलग्न कर देनी होगी।
  • पूरे फॉर्म को कंप्लीट भरकर और दस्तावेजों को लगाकर इसे संबंधित विभाग में जमा कर देना।
  • अब विभाग द्वारा इस कार्य हेतु जो अधिकारी नियुक्त किये गये हैं वह हर ब्लॉक के 250 किसानों को इस योजना हेतु नामित करेंगे।
  • इन व्यक्तियों को इस योजना के अंर्तगत उनका गोबर खरीद लिया जाएगा।
  • यह एक्चुअल् प्रक्रिया नहीं हैं यह अधिकारियों द्वारा ब्लॉक के कुछ किसानों को चुन लिया जाएगा।
होमपेजयहां देखें
आधिकारिक वेबसाइटअभी जारी नहीं

FAQ

Q. गोबर खरीद योजना किस राज्य में लागू की जायेगी?

Ans : हिमाचल प्रदेश राज्य में

Q : गोबर खरीदी योजना को कब लॉन्च होगी?

Ans : 2024 में

Q : गोबर खरीदी योजना में गोबर को कितने रूपये किलो में खरीदा जाएगा?

Ans : ₹2 प्रति किलो के हिसाब से खरीदा जाएगा.

Leave a Comment